गीतिका सम्मेलन सम्पन्न हुआ

0
46

नई दिल्ली ( विपिन महेश्वरी )

युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच के तत्वावधान में आयोजित द्वितीय गीतिका सम्मेलन रेलवे ऑफिसर्स कल्ब पी के रोड़ नई दिल्ली में आयोजित की गया ! कार्यक्रम के अध्यक्ष साहित्यकार देव नारयण शर्मा,मुख्य अतिथि- प्रोफ़ेसर- विशम्भर शुक्ल, विशेष- अतिथि- ओमप्रकाश प्रजापति रहे, युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच के अध्यक्ष- रामकिशोर उपाध्याय, महासचिव ओमप्रकाश शुक्ल, कोषाध्यक्ष-सुरेश पाल वर्मा जसाला के सानिध्य में पिछले वर्ष प्रथम गीतिका -सम्मेलन से प्रेरित होकर गीतिका विधा के संवर्धन को समर्पित द्वितीय गीतिका सम्मेलन कार्यक्रम बेहद सफल रहा, सभी गण्यमान्य अतिथियों के द्वारा सर्वप्रथम माँ शारदे के समक्ष दीप प्रज्वल्लित किया गया एवं माँ शारदे की वंदना पंडित धनुष धारी गिरि ने संस्कृत एवं कवियत्री मंजू वशिष्ठ ने हिंदी में की ,मंच का सञ्चालन श्वेताभ पाठक ने किया,प्रो विश्वम्भर शुक्ल ने गीतिका के विषय में कहा की “मैंने सर्व प्रथम गीतिका इमरजेंसी के दौरान लिखी और मंचों से पड़ा –“ऊँगली पकड़ उठे हैं नाजों पलें हैं हम कितने दोनों बाद पांवो चलें हैं हम “लोगो ने इसे ग़ज़ल कहा और देश के भिभिन्न समाचार पत्र पत्रिकाओं में इसे ग़ज़ल कह कर प्रकाशित किया गया ,किन्तु मैंने इसे गीतिका कह कर हर स्थान हर मंच से पढ़ा ,गीतिका पर दुनिया लाख फतवे ज़ारी कर दे किन्तु गीतिका को कोई बाँध कर नहीं रख सकता यह गंगा की शांत बन्धनमुक्त अविरल धारा है जो निरंतर बहती रहेगी बहना ही उसके जीवन की नियति है और लाख कोशिश के बाद भी कोई इस पर अपनी बंदिशो में नहीं लगा सकता ! मित्रों हर गीतिका ग़ज़ल नहीं है किन्तु हर ग़ज़ल गीतिका है ! युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच की ओर से कार्यक्रम के अध्यक्ष- देव नारयण शर्मा, मुख्य अतिथि- प्रोफ़ेसर- विशम्भर शुक्ल, विशेष- अतिथि- ओमप्रकाश प्रजापति और धनुषधारी गिरि का सम्मान शाल, बैज व पुष्पाहार से किया, इस शुभ अवसर पर साहित्य संसार में युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच बेहद प्रशंसनीय कार्य कर रहा है इस अवसर पर ट्रू मीडिया के संपादक- ओमप्रकाश प्रजापति व सह संपादक- डॉ. पुष्पा जोशी ने युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच के अध्यक्ष रामकिशोर उपाध्याय व प्रोफ़ेसर- विशम्भर शुक्ल जी को शाल, मुमेंटो,बैज व पुष्पाहार से सम्मानित किया , इस सुअवसर पर दिल्ली एवं दिल्ली के आस पास से करीब चालीस कवि व कवयित्री ने गीतिका सम्मेलन में अपना शानदार काव्य पाठ किया जिनमे निर्देश शर्मा ,डॉ अर्चना गुप्ता ,पुष्पलता ,वसुधा कनुप्रिया ,.अनीता जैन ,विजय कुमार चौबे ,अजय अज्ञात ,अकेला इलाहाबादी ,असलम जावेद ,शारदा मादरा ,वंदना गोएल ,विवेक आस्तिक आदि रहे !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here