प्रोजेक्ट आसरा बनेगा बेघरों का सहारा

0
98

नई दिल्ली ( रवि कुमार / अजय कुमार )

  • सड़क पर सोने वाले लोगों को रैन बसेरो तक पहुँचाने के लिऐ डीएलएसए ने कडकडडूमा कोर्ट परिसर मे आसरा नामक योजना की शुरूआत की इस मौके पर डीएलएसए ने 6 रिक्शाओं के माध्यम से लोगो को जागरूक करने की दिशा मे खास पहल की | जिसकी भूरी-भूरी प्रशंसा हो रही है | इस मौके पर प्रिंसिपल डिस्टिक एंड सेशन जज ईस्ट दीपक जगोत्रा प्रिंसिपल डिस्टिक एंड सेशन जज यशवंत कुमार डिस्टिक एंड सेशन जज नॉर्थ ईस्ट सुधीर कुमार जैन विशेष सचिव गौतम मनन तथा अतिरिक्त सचिव नम्रता अग्रवाल भी मौजूद थी | चेन्नई प्रोजेक्ट के माध्यम से सड़कों पर सोने वाले लोगों के लिए मानवता के आधार पर पहल की गयी | गौरतलब है कि सड़कों पर हजारों की तादाद में लोग खुले में बेतरतीब ढंग से दौड़ते वाहनों के बीच फुटपाथ सोते हैं जबकि रैन बसेरों की हालत किसी से छिपी नहीं है यही वजह है कि आज भी राजधानी दिल्ली में फुटपाथों पर हजारों की तादाद में लोग राते गुजारने को मजबूर हैं यमुनापार के तीनों जिलों में 6 ई रिक्शा ओं के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है |
  • कडकडडमा कोर्ट परिसर एप्स मैं हुए इस कार्यक्रम में डीएलएसए ईस्ट के सेक्रेटरी सुमित आनंद शाहदरा सेक्रेटरी विधि आनंद गुप्ता हरजीत सिंह तथा जसपाल का अहम योगदान रहा दिल्ली स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी के जनरल सेक्रेटरी कंवलजीत अरोड़ा ने बताया कि बहुत से लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं है कि रैन बसेरे सिर्फ सर्दी में ही नहीं चलाये जाते हैं अपितु गर्मियों में भी बेघर लोगों के लिए सिर पर लगातार छत खाना-पीना शौचालय की सुविधा उपलब्ध कराना भी रैन बसेरों का काम है जानकारी के अभाव में लोग रैन बसेरों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं इसी वजह से डीएलएसए द्वाराआसरा नामक प्रोजेक्ट चलाया गया है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here