लाला जगत नारायण न होते तो पंजाब खालिस्तान बन गया होता- गोयल

0
5

 नई दिल्ली ( विपिन महेश्वरी )

राष्ट्रवादी शिवसेना की बैठक में पंजाब के वयोवृद्ध पत्रकार लाला जगत नारायण को उनके बलिदान दिवस पर भावभीनी श्रद्धांजिली अर्पित की गई। बैठक में संगठन के पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट के राष्ट्रीय महासचिव जय भगवान गोयल ने कहा कि पंजाब में यदि लाला जगत नारायण जैसे षूरवीर नहीं होते तो उस समय आंतकवादियों के मंसूबे सफल हो गए होते और पंजाब खालिस्तान बन गया होता। लाला जगत नारायण ने पंजाब के हिन्दुओं को एक सूत्र में पिरोये रखने का काम किया। उनकी हत्या आंतकवादियों की कायराना हरकत थी। लाला जी षेरदिल पत्रकार थे तथा अपने आखिरी समय तक उन्होंनें उग्रवाद के आगे घुटने नहीं टेके अपितु राष्ट्रवादियों के समर्थन में आवाज बुलन्द करते रहे। लाला जी की निर्मम हत्या उनकी आयु के उस पड़ाव में की गई जब कभी भी उन्हें भगवान के घर से बुलावा आ सकता था। इसके पीछे आंतकवादियों का मंतव्य पंजाब को आंतकवाद की आग में झौंकना था क्योंकि उस समय उन जैसा कलम का सिपाही पंजाब में और कोई नहीं था। बैठक में उपस्थित जनों ने दो मिनट का मौन धारण कर लाला जी को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। बैठक में श्री गोयल के अतिरिक्त विनोद जैन, ईष्वर चैधरी, रमेष खन्ना, धर्मेन्द्र बेदी, सज्जन तायल, जी.के रात्रा, अमरनाथ गोयल, विश्णु गर्ग, षंकर लाल अग्रवाल, प्रेमचन्द गुप्ता व जगदीष गोयल आदि पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here