आर पी सिंह हो सकते हैं दिल्ली भाजपा के नए प्रधान

नई दिल्ली (अश्वनी भारद्वाज ) :

भाजपा ने निगम चुनावो की तैयारी शुरू कर दी है | पार्टी संगठन प्रधान किसी तेज तर्रार और रणनीतिकार को बनाये जाने पर गहन मंथन हो रहा है | राजधानी दिल्ली में निगम में भले ही पार्टी दो टर्म से पॉवर में है लेकिन विधान सभा के पिछले पाँच चुनाव परिणाम उसके पक्ष में नही रहे | निगम उप चुनाव में भी पास उल्टा ही पड़ा | लिहाजा पार्टी की रणनीति निगम में पूरी ताकत झोंकने की रहने वाली है
लम्बे समय से दिल्ली भाजपा गुटबाजी में लिप्त है | ऐसे समय में ऐसे सक्श की पार्टी को तलाश है जो सभी को स्वीकार हो | सांसद मनोज तिवारी का नाम मजबूती से आया था लेकिन उनके पक्ष में दिल्ली का एक भी सीनियर लीडर नही था | महेश गिरी भी मजबूत दावेदार है | लेकिन उनके नाम पर भी दिस दैट है |
महेश गिरी को जहां राष्ट्रीय स्तर पर बड़ी जिम्मेदारी की योजना है | वहीं मनोज तिवारी की सेवाएं यूपी चुनावो में मजबूती से लेने की है |पार्टी ने बनिया पंजाबी परम्परा से हटकर सतीश को बागडोर दी थी लेकिन वो रिजिल्ट नहीं दे पाए
जाट गुज्जर के लफड़े में भी पार्टी नही पड़ना चाहती | ऐसे में प्रवेश वर्मा तथा रमेश विधूड़ी का नम्बर भी नही लगता | पंजाब चुनावो के चलते पार्टी किसी सिख को ये जिम्मेदारी दे सकती है | ताकि पंजाब के साथ साथ दिल्ली में भी यह मैसेज दिया जा सके की
सिद्धू भले ही पार्टी छोड़ दे लेकिन पार्टी आज भी पंजाबियो तथा सिखों के साथ है | ऐसे में आर पी सिंह का नम्बर लग सकता है
आर पी सिंह वर्तमान में पार्टी के राष्ट्रीय सचिव हैं | वे डूसू में सचिव भी रह चुके हैं | इसके अलावा युवा मोर्चा तथा पार्टी में कई प्रमुख पदों पर काम कर चुके हैं |

कोई जवाब दें