कुसुम सरोवर पर पुष्पों से सिंगार किया था किशोरी जी का श्री कृष्ण नें

गोवर्धन ( राहुल कुमार / सी.पी.एन. न्यूज़ )

आज हम आपको कराने जा रहें हैं पवित्र कुसुम सरोवर के दर्शन | गोवर्धन परिक्रमा मार्ग पर बना है कुसुम सरोवर | मान्यता है यहां भगवान श्री कृष्ण नें श्री किशोरी जी का पुष्पों से सिंगार किया था | सफेद रंग का ये विशाल सरोवर बेहद रमणीक यानी बहुत खूबसूरत है | इस सरोवर का निर्माण भरतपुर के महाराज जवाहर सिंह नें कराया था | पक्के घाट और उन पर बनी छतरियां सबका मन मोह लेती हैं | सुंदर चित्रकारी सबका ध्यान अपनी ओर खींचती हैं | सरोवर के तट पर हनुमान जी तथा वन बिहारी के मन्दिर हैं वहीं उद्धव जी की बैठक दाऊ जी का मन्दिर, तथा नारद कुंद है जहां नारद जी ने तप किया था |
यहां पर भरतपुर के राजा सूरजमल की समाधि भी बनाई गई है | माना जाता है यहां राधा रानी सखियों सहित पुष्प चयन कर माला बनाती थी | और पुष्पों की सुगंध चारों ओर फ़ैल जाती थी | द्वापर युग के अंत में श्री उध्ह्व जी नें इस सरोवर के निकट ही द्वारिका की महिलाओं को भगवान श्री कृष्ण के दर्शन कराए थे | प्रतिवर्ष इस सरोवर पर लाखों श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते हैं |

कोई जवाब दें