शहीदों की याद में सभा आयोजित

नई दिल्ली ( हर्ष भारद्वाज / सी.पी.एन. न्यूज़ )

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी पर चीनी सैनिकों की घुसपैठ से देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए भारतीय सेना के बहादुर जवानों को प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में आदर सहित श्रद्धाजंलि अर्पित की |प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के अलावा मुख्य रुप से प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल, शिवानी चौपड़ा, अली मेहदी और परवेज आलम ने भी जवानों को श्रद्धाजंलि दी। सभी जिला कांग्रेस कमेटियों ने पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों को श्रद्धाजंलि देते हुए कैंडल मार्च निकाले |
चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय सैनिकों की नृशंस हत्या की दिल दहलाने वाली खबर से न केवल सुरक्षा बलों बल्कि सम्पूर्ण देशवासियों में गुस्सा है। संकट और अत्यधिक तनाव की इस घड़ी में पूरा देश भारतीय सेना के पीछे खड़ा है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि राहुल गांधी ने जो प्रश्न किए है कि वहां सेना को निहत्थे क्यों भेजा गया, इसको आज पूरा देश जानना चाहता है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि हालांकि पिछले कुछ दिनों से चीनी सैनिकों के आक्रामक रवैये के कारण गलवान घाटी में तनावपूर्ण वातावरण था, जिससे मोदी सरकार ने सीमा की अस्थिर स्थिति के बारे में देशवासियों को अंधेरे में रखा, और जब सीमा पर कमांडिंग अधिकारी सहित 20 भारतीय सैनिक गलवान घाटी में चीनी सेना ने बेरहमी से मार डाला उसके बाद ही देशवासियों की सीमा पर गंभीर स्थिति की जानकारी मिली |
चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कोविड महामारी पर मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण भ्रम और संशय का माहौल बना जिससे लोग अनिश्चितता और चिंता में जी रहे है। इसी तरह लद्दाख सीमा की स्थिति के भी भाजपा की केन्द्र सरकार ने देशवासियों के सामने नही आने दिया। जिसका परिणाम भंयकर हुआ। उन्होंने कहा कि लोगों को आश्वस्त करने और उनमें विश्वास जगाने के लिए केन्द्र सरकार को चीन की इस अपराधिक कार्यवाही से दृढ़ता से निपटना चाहिए और दुश्मन को भारतीय सीमा से दूर खदेड़ देना चाहिए।

कोई जवाब दें