बागियों से निपटेगी आज कांग्रेस

0
21

नई दिल्ली ( अश्वनी भारद्वाज )

दिल्ली नगर निगम चुनावो में पार्टी विरोधी काम करने वाले करीब पचास छोटे बड़े नेताओं के खिलाफ दिल्ली कांग्रेस कड़ा कदम उठाने जा रही है | जिसमे कुछ पूर्व विधायक तथा पूर्व निगम पार्षदों के अलावा पूर्व में निगम का चुनाव लड़ चुके कुछ नेता भी शामिल बताये जा रहे हैं |
विधान सभा चुनावों में गर्त में जा चुकी पार्टी भले ही निगम चुनावो में आशा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई लेकिन मत प्रतिशत बढ़ने से पार्टी को लग रहा है देर सवेर उसका वोट बैंक वापस आएगा | दो वार्डों पीपलथला तथा मौजपुर में जबरदस्त वापसी से पार्टी इतनी उत्साहित है की पार्टी के ऑल इंडिया महासचिव तक ने प्रैस ब्रीफिंग तक कर डाली |
निगम चुनावो में मिली पराजय के बाद स्टेट प्रेजिडेंट अजय माकन ने इस्तीफा दे दिया था लेकिन दिल्ली कांग्रेस के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब हार के बाद दिया इस्तीफा मंजूर पार्टी द्वारा नहीं किया गया | इतना ही नहीं अजय माकन को पार्टी विरोधी काम करने वाले नेताओं से सख्ती से निपटने की भी हरी झंडी मिल गई |
अजय माकन ने इसके बाद निगम चुनाव लड़े सभी प्रत्याशियों से उनके खिलाफ काम करने वाले नेताओं की सूचि मांगी | बताया जा रहा है दिल्ली भर से तीन सौ से ज्यादा लोगो के खिलाफ कम्प्लेंट्स मिली | जिसे पार्टी की अनुशासन समिति को सौप दिया गया | अनुशासन समिति ने स्टडी करने के बाद गंभीर आरोपों वाले लीडरान की सूचि प्रदेश लीडरशिप को सौंप दीं | मिली जानकारी के मुताबिक उक्त सूचि में करीब आधा दर्जन पूर्व विधायक, दो पूर्व सांसदों समेत एक दर्जन से भी ज्यादा सीनियर लीडर्स के नाम सामने आये हैं |
पार्टी का मानना है जब पार्टी संकट से जूझ रही हो ऐसे में अनुशासन हीनता को कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता | लिहाजा पार्टी हाई कमान से ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद ही कड़े कदम उठाए जाना की घोषणा की की संभावनाएं प्रबल हैं | पार्टी को कुछ कम्प्लेंट्स ऐसी भी मिली है कुछ पूर्व विधायक तथा पूर्व पार्षद न केवल पार्टी विरोधी काम कर रहे थे अपितु वो भाजपा तथा आम आदमी पार्टी के सम्पर्क में भी थे | ऐसे नेताओं को पार्टी बाहर का रास्ता भी दिखा सकती है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here