जलभराव के लिए निगम व दिल्ली सरकार दोनों है जिम्मेवार

0
9

नई दिल्ली ( वीर अर्जुन / सी.पी.एन. न्यूज़ )

राजधानी दिल्ली में बरसाती जल भराव को ले बवंडर मचा है | भाजपा और आम आदमी पार्टी जहां एक-दूसरे को घेर रहीं हैं वहीं कांग्रेस इस समस्या के लिए दोनों को ही जिम्मेदार बता रही है | जल भराव के चलते जहां शहर के लाखों लोग परेशानी झेल रहे हैं वहीं कई लोग इसकी चपेट में आकर अपनी जान भी दे चुके हैं | दिल्ली की जनता क्या सोचती है इस बारे में और किसे जिम्मेदार ठहरा रहें हैं लोग ये जानने के लिए वीर अर्जुन की टीम पहुंची लोगो के बीच और जानी उनकी राय | इस बाबत लोगो नें क्या कुछ बताया देख सकते हैं आप भी |
भगवानपुर खेडा निवासी बिर्जैश कुमार का कहना है इस साल तो अभी तक इतनी बारिश भी नहीं हुई | और जलभराव के मामले इतने आ रहे हैं जितने मुम्बई में भी नहीं सुने | इसका मतलब नालों की सफाई नहीं हुई | और सफाई के नाम पर केवल खानापूर्ति की गई है | या फिर कुछ किया ही नहीं गया | वे इसका दोष नगर निगम के साथ-साथ दिल्ली सरकार पर भी मढ़ते हैं | बिर्जैश कहते हैं सफाई का काम नगर निगम का है लेकिन बड़े नाले दिल्ली सरकार के अधीन आते हैं, दोनों की ओर से लापरवाही बरती गई है | चन्द्रलोक निवासी जय जय राम अरुण भी इसी राय से इतफाक रखते हैं | वे कहते हैं उनके क्षेत्र में तो नालों की सफाई हुई ही नहीं छोटे हो या बड़े किसी भी नाले को साफ़ नहीं किया गया | इसका मतलब नगर निगम और दिल्ली सरकार दोनों नें ही घोर लापरवाही बरती है, इसकी जांच होनी चाहिए |
वे कहते हैं थोड़ी सी बरसात में ही पूरा इलाका जलमग्न हो जाता है | गोल चक्कर लोनी निवासी अंजुल गर्ग कहते हैं हैं गोल माल है भाई साहब गोल माल है | सफाई के नाम पर करोड़ों का बजट हैं | लेकिन बरसात नें नगर निगम और दिल्ली सरकार दोनों की पोल खोल दी है | इस लापरवाही से कोई भी पल्ला नहीं झड सकता | मंडावली निवासी पिर्यांशु मिश्र का कहना है दिल्ली सरकार इसके लिए सीधे तौर से जिम्मेवार है | वे कहते हैं मुख्मंत्री अरविन्द केजरीवाल हर मामले में वर्ल्ड लेवल सुविधावों की बात करते हैं लेकिन मामूली सी बरसात के बाद हुए जलभराव नें उनकी सरकार की पोल खोल कर रख दी हैं | वर्ल्ड लेवल तो क्या लोकल लेवल पर भी उनकी तैयारी नहीं हैं | कुछ इसी तरह रोहताश नगर निवासी दीपांशु अग्रवाल का कहना हैं | दीपांशु कहते हैं इतना जलभराव तो कभी नहीं देखा | इसके लिए केवल और केवल केजरीवाल सरकार दोषी है | नगर निगम के पास केवल सफाई का काम है नालों की सफाई पी.डब्लू.डी. और बाढ़ नियन्त्रण विभाग करता है जोकि सीधे तौर पर दिल्ली सरकार के तहत काम करते हैं | दुर्गापुरी निवासी ज्योति का कहना है इस लापरवाही से कोई भी मुहं नहीं मोड़ सकता नगर निगम हो या दिल्ली सरकार | अच्छा हो जाता है तो दोनों श्रेय लेते हैं और गलत हो रहा हो तो दोनों एक दूसरे पर दोषारोपण कर पब्लिक को गुमराह कर रहें हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here