कलशयात्रा के साथ भागवत कथा प्रारंभ

0
8

पूर्वी दिल्ली ( सी.पी.एन. न्यूज़ )

खरमास के अवसर पर स्वामी राजेश्वरानन्द महाराज के कृपापात्र परम् कौशल दास महाराज ( अयोध्या ) द्वारा कबुलनगर मदरडेरी के साथ शाहदरा में श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है | कथा के प्रथम चरण में सुहागवती महिलाओं द्वारा कबुलनगर स्थित श्रीराजमाता मन्दिर से कलशयात्रा निकाली गई | जिसमें महिलाओं के मस्तक पर जल के कलश व श्रीमद्भागवत जी की पौथी शोभायमान थी | भजन गाते हुए भक्तसमुह के साथ कथावाचक श्री कौशल दास जी महाराज कीर्तन करते हुए चल रहे थे | कथा के प्रथम दिवस स्वामी राजेश्वरानन्द महाराज ने उपस्थित रहकर आशीर्वचन में कहा कि श्रीमद्भागवत कथा को आत्मसात करने से मनुष्य अपने पाप बन्धन से छूटकर जीते जी विषय विकारो, मोह-अहंकार से मुक्तिबोध को प्राप्त हो जाता हैं |
कथावाचक कौशल दास महाराज ने कथा महात्म्य कहते हुए कहा कि “श्रीमद्भागवत कथा” साक्षात भगवान का ही रूप है | भागवत पुराण श्रवण से मनुष्य के जीवन में विघ्न बाधाओं का नाश तो होता ही है साथ पितरों को भी मोक्ष प्राप्ति सुलभ करवाती हैं | हमे दस बीस काम छोड़कर भोजन कर लेना चाहिए, पचास सौ काम छोड़कर माता पिता की सेवा कर लेनी चाहिए परन्तु हज़ारों काम छोड़कर भागवत कथा रूपी सत्संग का श्रवण कर लेना चाहिए जिससे मनुष्य का कल्याण निश्चित रूप से होता हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here