क्या फल मिलते हैं सुंदर कांड का पाठ करने / कराने से

0
2

नई दिल्ली ( आशीष कुमार / विपिन महेश्वरी )

राम चरित्र मानस में तुलसीदास जी ने सुंदर कांड का बेहद प्रेम से सुंदर वर्णन किया है | लोग बड़े प्रेम भाव एवं श्रद्धापूर्वक सुंदर कांड का पाठ कराते है | इस पाठ को करने तथा सुनने मात्र से लोगो का जीवन आनंद से भर जाता है | यह पाठ क्यों करना चाहिए और किस विधि से करना चाहिए जानिए आप भी ……….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here