गरीबों को श्री गणेश जी महाराज से ज्यादा रिद्धि-सिद्धि चाहिए

0
22

 डाॅ. रिखब चन्द जैन संगठन प्रमुख

भारतीय मतदाता संगठन सिद्धि विनायक श्री गणेश जी रिद्धि-सिद्धि के दाता और प्रत्येक कार्य का प्रारम्भ “श्री गणेश” के आहृवान से होता है। कार्य के “श्री गणेश” करने को ही कार्य को प्रारम्भ किये जाने की संज्ञा है। शिव-पार्वती पुत्र सब देवों में प्रथम पूज्यनीय है और सर्वाधिक मंगलकारी है। इस वर्ष गणेश जी महाराज गरीबों की कठनाईयों को देखते हुए, महंगाई को देखते हुए, उनकी जरूरतों को देखते हुए, उनकी इच्छाओं की प्रबलता को भांपते (समझतें) हुए गरीबों, शोषितों, दलितों और पिछडे़ लोगों पर अधिक कृपया बरसाये ताकि गणेश पूजा उनके लिए सफल साबित हो सके। दीन-दुःखी और परेशान लोगों पर गणेश जी की नजर सबसे पहले जाती है। गरीब, गरीब ना रहें। उसके संकट के दिन दूर हो, उन्हें दाल-रोटी अच्छी मिल सके। उनकी दवाई-पानी की जरूरतें पूरी हो सके। उनके बच्चों का अच्छी शिक्षा के द्वारा भविष्य बन सके। ऐसी ही प्रार्थना श्री गणेश जी महाराज से करते हैं। सरकार, अधिकारी, प्रशासन और समाज सेवी वर्ग को श्री गणेश जी महाराज, गणेश उत्सव के अवसर पर गरीबों की मदद के लिए उनकी तकलीफें दूर करने के लिए निमित बनायें, उन्हें प्रेरणा दें और ऐसे कार्यो में उनको सफलता मिले। ऐसी ही गणेश कृपा प्रत्येक भक्त को, खासकर दीन-दुःखी, शोषित, दलित भक्तों को चाहिए। गणेश भक्तों को विश्वास है कि अगली गणेश उत्सव पर वो अपने-आपको और अधिक समृद्ध और सुखी पायेंगे तथा और अधिक उत्साह से अगले वर्ष भक्ति के साथ मनायेंगें। विनायक गणेश की सभी भक्तों पर कृपा बरसे। घर-घर धर्म प्रचार हो। जन-जन को सुख, शान्ति, खुशहाली प्राप्त हो। भक्त वत्सल श्री गणेश जी महाराज भक्तों की मनोकामना पूरी करेंगे इसी विश्वास के साथ सभी गणेश भक्तों को मंगलमय बधाई! ।। जय श्री गणेश ।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here