टाटा कंपनी में था सुरक्षा कर्मी : लख्खा

0
43
नई दिल्ली (शीष रस्तोगी/ संदीप कुमार)  
भजन की दुनिया में विश्व भर में धाक जमा चुके लखबीर सिंह लख्खा किसी पहचान के मोहताज नहीं है ! लख्खा का नाम जुबान पर ते ही अरे द्वार पलो कन्हैया से कह दो कि द्वार पर सुदामा गया है ! भजन जुबां पर जाता है ! लख्खा ने जो भी भजन गाया वही हिट हो गया ! यह बात अलग है इतना हिट होने के बाद भी लख्खा ज भी सादगी के दूसरे रूप है !
गत  दिनों लख्खा ने सी.पी.एन. की टीम को अपने निवास पर बुलाया और की दिल से बातचीत ! लख्खा ने बताया, वे टाटा कंपनी में सुरक्षा कर्मी थे ! टाटा कंपनी ने उन्हें बहुत मान दिया ! उन्होंने बताया जमशेदपुर में हु था उनका जन्म ! उन्होंने बताया स्कूल में पर्थ्रना गाता था ! बड़ा अच्छा लगता था ! कावड़ शिविर के माध्यम से खाटू श्याम जाने का मौका मिला ! बस फिर क्या…? श्याम बाबा ने ऐसा हाथ पकड़ा कि मुझे उस दरबार से बहुत नाम मिला !
लख्खा बताते है गुलशन कुमार की उन पर नजर पड़ी और हो गई उनकी बल्ले-बल्ले ! गुलशन कुमार ने मुझे मौका दिया ! मैने माता की एलबम बनाई ! जिससे विदेशो तक मेरा नाम हो गया ! उन्होंने बताया.. उन्होंने एशियाड-82 में भी गया था ! वे बताते है उन्होंने कभी संगीत की शिक्षा नहीं ली ! उन्हें लगता है वे अभी अधूरे है !
लख्खा ने बताया भजन के साथ-साथ उन्होंने कव्वाली भी गाई है ! लख्खा कहते है मौ. रफ़ी कम्प्लीट सिंगर थे और लता जी का जवाब नहीं ! उन्होंने बताया उनका लड़का पन्ना गिल भी संगीत की दुनिया में चुका है! लख्खा ने बताया, वे पूर्णागिरी माँ पर एक फिल्म भी बना रहे है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here