सैमसंग इंडिया ने अपने सर्विस नेटवर्क का विस्तार किया

0
14
नई दिल्ली ( प्रेमबाबू शर्मा )
सैमसंग इंडिया ने देश भर में अपने सर्विस नेटवर्क के विस्तार की घोषणा की, जिसमें देश का हर हिस्सा सैमसंग सर्विस के दायरे में आ जाएगा। यह नेटवर्क, जिसमें 535 सर्विस वैन शामिल हैं, देश में 29 राज्यों व 7 संघ शासित प्रदेशों के 6,000 से अधिक जिलों तक पहुंचेगा। इससे सैमसंग का सर्विस नेटवर्क पूरे भारत में इस उद्योग में सबसे बड़ा हो गया है।
          एच.सी. होंग, प्रेसिडेंट व सीईओ, सैमसंग साऊथवैस्ट एशिया ने सांसदों के साथ नौएडा स्थित सैमसंग के विनिर्माण प्लांट से 29 राज्यों का प्रतिनिधित्व करने वाली 29 वैन्स को झंडी दिखाकर इस पहल की शुरूआत की।
          नरेन्द्र सिंह तोमर, ग्रामीण विकास मंत्री, भारत सरकार ने कहा, ”ग्रामीण भारत में डिजिटीकरण और विद्युतीकरण के विस्तार के साथ, हम इलेक्ट्राॅनिक्स व मोबाइल उत्पादों को अपनाने में वृद्धि की प्रक्रिया देख रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में उत्पादों की आफ्टर-सेल्स सर्विस के सम्बंध में ग्राहकों की आवश्यकताओं के समाधान के लिए गुणवत्तापूर्ण सर्विस नेटवर्क स्थापित करके इस रूझान को समर्थन कारपोरेशन्स के लिए अनिवार्य हो गया है।“
          डाॅ. महेश शर्मा, पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री, भारत सरकार ने कहा, ”सैमसंग का विनिर्माण प्लांट, दो आरएंडडी सेंट व इसका डिज़ाइन सेंटर नौएडा, उत्तर प्रदेश और पूरे देश में अर्थव्यवस्था व प्रौद्योगिकी के विस्तार में बड़ा योगदान दे रहे हैं। ग्रामीण भारत पर केंद्रित सरकार के लक्ष्य में भाग लेने वाली कारपोरेशन्स, चाहे वे उत्पाद क्षेत्र में हों या सर्विस क्षेत्र में, उन्हें इस पहल से ग्रामीण उपभोक्ताओं का भरोसा दीर्घकालिक रूप से हासिल करने का लाभ मिलेगा।“
          एच.सी. होंग, प्रेसिडेंट व सीईओ, सैमसंग साऊथवैस्ट एशिया ने कहा, ”सैमसंग देश भर में सर्वोत्तम सेवा उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। नई सर्विस पहल के साथ, ग्रामीण क्षेत्रों के हमारे उपभोक्ता, शहरी ग्राहकों की तरह तीव्र और उच्च गुणवत्ता वाली सेवाओं का समान स्तर प्राप्त कर सकेंगे। हमारा लक्ष्य ग्रामीण-शहरी सर्विस अंतर को समाप्त करना है और हमने एक ऐसा समाधान खोजा है जो ‘मेड इन इंडिया’ व ‘मेड फार इंडिया’ है, जिससे पूरे देश में शानदार सर्विस सुविधा मिलेगी।“

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here