शिमला फिल्मोंत्सव में छाई रही राजपाल यादव की फिल्म ब्ल्यू माऊंटन

0
18
नई दिल्ली ( प्रेमबाबू शर्मा )
दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव हिमालयन वैलोसिटी भाषा एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में गेयटी थियेटर शिमला में आयोजित में बेस्ट ज्यूरी फार फीचर फिल्म का अवाॅर्ड ‘ब्ल्यू माऊंटन’ ने जीता इसके निर्माता राजेश कुमार जैन और निर्देशक सुमन गांगुली है । फिल्म के मुख्य कलाकार रणवीर शोरे,ग्रेसी सिंह, राजपाल यादव, यथार्त रत्नम है। फिल्म के निर्माता राजेश कुमार जैन ने बताया कि ‘ब्लू माउंटेन्स’ की कहानी एक बच्चे के गायक की संघर्ष को दिखाती है जो कि अपने माँ के सपनो को पूरा करता है। उन्होंने बताया कि ‘आजकल बच्चे  असफलता से निराश होकर आत्महत्या जैसा कदम उठाने का मजबूर हो जाते है ‘ब्लू माउंटेन्स के माध्यम से बच्चो का आत्मबल और मनोबल बढ़ने की कोशिश की है।
               समारोह में हिमाचली निर्माताओं की 15 फिल्मों सहित कुल 62 फिल्में दिखाई गईं। फिल्म ‘लाल होता दरखत’ फिल्म का शुभारंभ हुआ। इस अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में फिल्मों की विभिन्न श्रेणियों में बांटा गया था, जिसके आधार पर श्रेष्ठ फिल्मों को चयन किया गया। इसमें बेस्ट ज्यूरी फार फीचर फिल्म का अवाॅर्ड ‘ब्ल्यू माऊंटन’ ने जीता इसके निर्माता राजेश कुमार जैन और निर्देशक सुमन गांगुली है। फिल्म के मुख्य कलाकार रणवीर शोरे,ग्रेसी सिंह, राजपाल यादव, यथार्त रत्नम है। फिल्म के निर्माता राजेश कुमार जैन ने बताया कि ‘ब्लू माउंटेन्स’ की कहानी एक बच्चे के गायक की संघर्ष को दिखाती है जो कि अपने माँ के सपनो को पूरा करता है। उन्होंने बताया कि ‘आजकल बच्चे  असफलता से निराश होकर आत्महत्या जैसा कदम उठाने का मजबूर हो जाते है ‘ब्लू माउंटेन्स के माध्यम से बच्चो का आत्मबल और मनोबल बढ़ने की कोशिश की है।
               अंतरराष्ट्रीय श्रेणी में श्रेष्ठ लघु फिल्म में बीडी तौकिर इस्लाम निर्देशित बंगलादेशी फिल्म ‘आईना मिरर’ चुनी, इसी श्रेणी में स्पेशल जयूरी अवाॅर्ड निर्देशक अहिसीफ खान की कि बंगलादेशी फिल्म ‘दि पोस्टर’ को मिला। बेस्ट ड्रोकोमंटरी नेपाली फिल्म ‘भागयेले बाछे कहा’ चयनित की गई। इसके निदेशक गनेश पांडे है। इसी में स्पेशल ज्यूरी अवाॅर्ड ड्रोकोमेटरी, निदेशक कोलिन गराहम और लोरा गराहम की फिल्म आऊट कास्ट यूके को मिला।
               बेस्ट एनीमेंट निदेशक ऐलेक्सीस चेवियेरास की फिल्म शन अगरीनोई को मिली इसके अलावा राष्ट्रीय श्रेणी में श्रेष्ठ लघु फिल्म मुंबई से निदेशक उमेश मोहन बयाडे की फिल्म चैखट फेम को मिला राष्ट्रीय श्रेणी में बेस्ट ड्रोकोमेटरी का अवॉर्ड झारखंड रांची के निदेशक बीजू तोपू की फिल्म ‘हंट’ को मिला जबकि अन्य स्पेशल ज्यूरी अवार्ड ड्रोकोमेटरी, जलालू ददीन बाबा निर्देशित जे एंड के की फिल्म श्रुडिड पराडाइंस और इस श्रेणी के अंत में बेस्ट म्यूजिक वीडियो स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन रोहतक की ‘सात फेरे’ विडियो ने जीती, जिसके निर्देशक अमित कुमार |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here